पंजाब में दलितों को गोलियों से भूना; 2 की मौत

पंजाब के श्री मुक्तसर साहिब में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां के गांव जवाहरेवाला में तथाकथित उच्च जाति के लोगों ने रंजिशन दलित मजदूरों को सरेआम गोलियों से भून दिया। इस गोलीकांड में एक महिला समेत 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि गोलियां लगने से दलित पक्ष के 2 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। पुलिस ने इस संबंध में यूथ कांग्रेस के ब्लाक प्रधान समेत 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक, पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह पप्पा का प्रत्याशी पिछले पंचायत चुनाव में सरपंची का चुनाव हार गया था। तभी से उसकी जीतने वाले दलित सरपंच पक्ष के साथ रंजिश चली आ रही थी। नई बनी पंचायत ने दलितों के मोहल्ले में मनरेगा के तहत गली पक्की करने का काम शुरू करवाया था। वहीं, पलविंदर सिंह पप्पा का गुट गांव में प्रबंधक लगाकर यह काम करवाना चाहता था।

13 जुलाई को जब यह काम चल रहा था तो पूर्व सरपंच पलविंदर सिंह पप्पा और सुखविंदर सिंह उर्फ दुग्गी सिंह हथियार लेकर करीब एक दर्जन लोगों समेत मौके पर पहुंच गए। इसी दौरान दुग्गी सिंह ने अपनी बंदूक से फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें दलित पक्ष की मिन्नी रानी (25) और उसके देवर किरनदीप सिंह (25) की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, किरनदीप सिंह के भाई धरमिंदर व गुरजीत गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

Comments

Leave a Reply