लुधियाना में चर्च के पास गोलियां मारकर की गई थी पास्टर की हत्या

पंजाब के लुधियाना में पास्टर सुल्तान मसीह की हत्या के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक सुखपाल सिंह खैहरा ने गंभीर आरोप लगाए हैं। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि पास्टर की हत्या के पीछे उन्हें भाजपा, आरएसएस व हिंदू संगठनों का हाथ होने का शक है।

वहीं पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति मंच पंजाब के महामंत्री व पूर्व महामंत्री युवा भाजपा अशोक सरीन हिक्की ने खैहरा को कानूनी नोटिस भेजकर सात दिनों में माफी मांगने के लिए कहा है। सरीन ने कहा कि इस तरह के गलत बयान देकर खैहरा जनता को गुमराह करके पुलिस की जांच को गलत दिशा देने की कोशिश कर रहे हैं।

भाजपा के पंजाब उपप्रधान हरजीत सिंह ग्रेवाल व सचिव विनीत जोशी ने भी खैहरा के आरोपों को निराधार बताया है। उन्होंने कहा कि खैहरा या तो सुबूत पेश करें या फिर माफी मांगें।

गौर हो कि लुधियाना के सलेम टाबरी क्षेत्र में 15 जुलाई की रात को मोटरसाइकिल सवार लोगों ने गोलियां मारकर पास्टर सुल्तान मसीह की हत्या कर दी थी। हमलावर मोटरसाइकिल पर आए थे, जिन्होंने रात 8.45 बजे सुल्तान मसीह पर गोलियां चलाईं और मौके से फरार हो गए। यह घटना क्रिश्चियन चर्च के बाहर हुई थी।

इस घटना के बाद लुधियाना में ईसाई समुदाय ने सडक़ों पर उतरकर प्रदर्शन किया था। पास्टर की हत्या के आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

Comments

Leave a Reply