Uttar Pradesh

'रामायण पाठ के दौरान दलितों को घरों से बाहर न निकलने का फरमान'


Updated On: 2017-08-24 08:16:01 'रामायण पाठ के दौरान दलितों को घरों से बाहर न निकलने का फरमान'

कानपुर। उत्तर प्रदेश में दलितों से जाति भेदभाव का नया मामला सामने आया है। यहां के हमीरपुर जिले के गांव गदाहा में रामायण पाठ को लेकर हंगामा हो गया।

इस संबंध में टाइम्स ऑफ इंडिया की एक खबर के मुताबिक, यहां मंगलवार को एक पुजारी ने मंदिर के बाहर एक नोटिस चिपका दिया। इसमें लिखा गया था कि मंदिर में 10 दिनों तक रामायण का पाठ चलेगा और पाठ के दौरान दलित मंदिर से दूर रहें। मंदिर में दलितों को दाखिल न होने की चेतावनी भी दी गई।

खबर के मुताबिक, गांव के दलितों ने आरोप लगाया कि यहां किसी भी धार्मिक आयोजन के दौरान उन्हें बाहर रखा जाता है, क्योंकि ऐसी मान्यता है कि दलित बुरा संयोग लेकर आएंगे।

आरोप है कि राम जानकी मंदिर के पुजारी ने मंदिर के बाहर चेतावनी भरे अंदाज में नोटिस चिपकाया, जिस पर 10 दिनों तक रामायण पाठ के दौरान दलितों को घर से बाहर नहीं निकलने के लिए कहा गया था।

स्थानीय गुरु प्रसाद आर्य ने बताया कि यह कोई पहली बार नहीं है जब दलितों के मंदिर में प्रवेश पर रोक लगाई गई। खबर के मुताबिक, एसडीएम सुरेश कुमार ने कहा, इस मामले की पूरी जांच की जाएगी।

Comments

Leave a Reply


Advertisement