Uttar Pradesh

मायावती को बनाया मां काली; हाथ में स्मृति का सिर, चरणों में आरएसएस प्रमुख भागवत


Updated On: 2016-04-25 12:22:46 मायावती को बनाया मां काली; हाथ में स्मृति का सिर, चरणों में आरएसएस प्रमुख भागवत

हाथरस (उत्तर प्रदेश)। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती का एक पोस्टर एक बार फिर चर्चा में आ गया है। हाथरस के सादाबाद इलाके में संविधान निर्माता बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर की शोभायात्रा के दौरान एक पोस्टर में मायावती को काली मां के रूप में दिखाया गया।

पोस्टर में काली मां बनी मायावती के हाथों में स्मृति ईरानी का सिर और चरणों में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पड़े हैं और हाथ जोड़ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नजर आ रहे हैं।

पोस्टर में भाजपा को दलित और आरक्षण विरोधी करार दिया गया है और पोस्टर में लिखा है- हम आरक्षण खत्म नहीं होने देंगे। बहरहाल इस किस्म के पोस्टर की सूचना मिलते ही प्रशासन यहां पहुंच गया और तुरंत झांकी को रुकवा कर उस पोस्टर को उतरवा लिया।

बता दें कि 24 फरवरी को राज्यसभा में हैदराबाद यूनिवर्सिटी के दलित छात्र रोहित वेमुला की मौत के मामले पर बहस के दौरान मायावती द्वारा विरोध किए जाने के दौरान स्मृति ने उन्हें कहा था कि मुझे जवाब देने दें, अगर आपके कार्यकर्ता और नेता मेरे जवाब से असंतुष्ट हुए तो मैं आपको चरणों में सिर कलम कर रख दूंगी।

इसके बाद स्मृति ईरानी ने रोहित वेमुला मामले पर जो जवाब दिया था, उससे मायावती संतुष्ट नजर नहीं आईं। उन्होंने स्मृति ईरानी से अपना वायदा पूरा करने के लिए कहा था।

इसके अतिरिक्त आरक्षण व्यवस्था की समीक्षा को लेकर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत का बयान आने के बाद मायावती भाजपा सरकार व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मोर्चा खोलती रही हैं। हाथरस में मायावती के इस पोस्टर को इन्हीं मामलों से जोडक़र देखा जा रहा है।

Comments

Leave a Reply


Advertisement