Punjab

पंजाब बंद : सडक़ें जाम, मोदी सरकार के खिलाफ फूटा गुस्सा


Updated On: 2019-08-13 14:58:36 पंजाब बंद : सडक़ें जाम, मोदी सरकार के खिलाफ फूटा गुस्सा

दिल्ली के तुगलकाबाद स्थित श्री गुरु रविदास मंदिर को तोड़े जाने की घटना के विरोध में 13 अगस्त को पंजाब मुकम्मल बंद रहा। बंद के दौरान श्री गुरु रविदास नामलेवा संगत सुबह 9 बजे से लेकर शाम करीब 6 बजे तक सडक़ों पर बैठी रही।

ऐसे में सडक़ यातायात पूरी तरह से ठप रहा। कई स्थानों पर ट्रेनें रोके जाने की भी सूचना है। इस दौरान धरने प्रदर्शनों पर बैठे लोगों ने केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और मोदी के पुतले फूंके।

दरअसल, लोगों का कहना था कि जिस दिल्ली डेवलपमेंट अथारिटी (डीडीए) ने मंदिर को तोडऩे की कार्रवाई की है, वह केंद्र सरकार के अंतर्गत आता है। ऐसे में वे केंद्र सरकार को जिम्मेवार ठहरा रहे हैं।

इस मामले को लेकर लोगों का गुस्सा भाजपा नेताओं के साथ-साथ उनकी सहयोगी पार्टी अकाली दल के खिलाफ भी फूटता नजर आया। पंजाब के पटियाला जिले में प्रदर्शन में शामिल होने आए अकाली दल के नेता कबीरदास जब प्रदर्शन को संबोधित करने लगे तो लोगों ने उनसे माइक छीन लिया। उन्होंने कबीरदास को आरएसएस समर्थक बताया।

लोगों के गुस्से को देखते हुए कई भाजपा नेता इन प्रदर्शनों से दूर रहे। वहीं, उसकी सहयोगी पार्टी अकाली दल के नेता भी प्रदर्शनों में सरगर्म नजर नहीं आए। इन प्रदर्शनों में बसपा नेताओं और वर्करों की तादाद कहीं अधिक रही।

जालंधर, कपूरथला, शहीद भगत सिंह नगर, होशियारपुर, रूपनगर, संगरूर आदि जिलों में लोग सुबह से सडक़ों पर डटे रहे। इस दिन बाजार पूरी तरह से बंद रहे। वहीं, स्कूल-कॉलेज भी बंद रखे गए।

प्रदर्शनों के दौरान केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी होती रही। कई जगह मोदी सरकार के पुतले भी फूंके गए। फगवाड़ा में संत समाज नेशनल हाईवे पर धरने पर बैठा रहा।

Comments

Leave a Reply


Advertisement