India

एससी वर्ग के लोगों ने राम के नाम पर रखे वार्ड का किया विरोध


Updated On: 2017-09-17 17:49:14 एससी वर्ग के लोगों ने राम के नाम पर रखे वार्ड का किया विरोध

उत्तर प्रदेश के कौशाम्बी जिले में एक वार्ड के नामकरण पर विवाद हो गया है। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यहां के भरवारी नगर पालिका परिषद के वार्ड पांच का रामनगर नाम रख दिया गया, जिसका अनुसूचित जाति (एससी) वर्ग के लोगों ने विरोध शुरू कर दिया है।

उनका कहना है कि यह वार्ड अनुसूचित जाति बाहुल्य है। इसलिए इसका नाम बहुजन महापुरुषों के नाम पर रखा जाए। इसके अलावा चायल विधायक के पिता व बाबा के नाम पर हुए वार्डों के नामकरण का भी विरोध शुरू हो गया है। नामकरण को लेकर सियासत गरम हो चुकी है। 

भरवारी नगर पंचायत का सीमा विस्तार कर नगर पालिका परिषद का गठन किया गया है। 29 गांवों को जोडक़र कुल 25 वार्ड बनाए गए हैं। वार्डों का नामकरण भी हो गया है। इस पर आपत्ति मांगी गई है। नामकरण को लेकर लोगों ने आपत्ति जताई है।

रसूलपुर गिरिसा के दर्जनों लोगों ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। साथ ही डीएम को ज्ञापन देकर बताया कि उनके वार्ड में अनुसूचित जाति के अधिकांश लोग हैं। उनके गांव को वार्ड नंबर पांच में डाला गया है। वार्ड का नाम रामनगर रखा गया है।

इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि रामनगर नाम बदलकर इसका नामकरण बहुजन महापुरुषों के नाम पर किया जाए। इसका नाम गौतम बुद्ध नगर, कांशीराम नगर, वीरांगना ऊदा देवी नगर, राजा बिजली पासी नगर के अलावा शहीद भगत सिंह नगर नाम रखा जा सकता है।

इनके अलावा मूरतगंज पल्हाना रोड निवासी मानसिंह ने प्रमुख सचिव नगर विकास को आपत्ति भेजी है। मान सिंह का आरोप है कि चायल विधायक संजय गुप्ता ने अपना प्रभाव दिखाते हुए वार्ड नंबर 14, 17 और 19 का नामकरण अपने पिता व बाबा के नाम पर कराया है। वार्ड नंबर 19 को धर्मराज पटेल के नाम पर रखा गया है। धर्मराज पटेल को आपराधिक छवि का बताया गया है। यह मामला धीरे-धीरे तूल पकडऩे लगा है।

Comments

Leave a Reply


Advertisement