India

पहलू खान हत्याकांड : आरोपी बरी होने पर मायावती ने कांग्रेस सरकार को घेरा


Updated On: 2019-08-16 10:46:00 पहलू खान हत्याकांड : आरोपी बरी होने पर मायावती ने कांग्रेस सरकार को घेरा

राजस्थान में साल 2017 के अप्रैल महीने में पहलू खान नाम के एक पशु पालक की भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। करीब 2 साल बाद 14 अगस्त को अदालत ने इस मामले में सभी छह बालिग आरोपियों को बरी कर दिया। अदालत के इस फैसले के बाद से जहां पहलू खान का परिवार सदमे में है, वहीं विपक्षी पार्टियां सरकार पर इस मामले को गंभीरता से ना लेने का आरोप लगा रही हैं।

बसपा अध्यक्ष कुमारी मायावती ने इसी मामले को लेकर राजस्थान की कांग्रेस सरकार को घेरा है। अपने ट्वीट में उन्होंने कहा कि राजस्थान की कांग्रेस सरकार की घोर लापरवाही और निष्क्रियता के कारण सभी आरोपी अदालत से बरी हुए हैं।

उन्होंने कहा कि यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण है। पीडि़त परिवार को न्याय दिलाने के लिए वहां की सरकार अगर सतर्क रहती तो क्या यह संभव था ? शायद कभी नहीं।

दूसरी ओर पहलू खान के बड़े बेटे इरशद खान ने कहा-हमारा कानून से विश्वास उठ गया है। पिछले ढ़ाई वर्षों से हम इंसाफ की उम्मीद कर रहे थे। हमें ऐसा लगा कि न्याय दिया जाएगा और उससे मेरे पिता की आत्मा को शांति मिलेगी, लेकिन, हमारा भरोसा ध्वस्त हो गया।

उल्लेखनीय है कि इस मामले में कुल नौ आरोपियों में तीन नाबालिग हैं, जिनका मामला किशोर न्यायालय में चल रहा है। बालिग आरोपियों में विपिन, रविंद्र, कालूराम, दयानंद, योगेश और भीम राठी शामिल थे, जिन्हें अदालत ने बरी कर दिया।

यह घटना दो साल पहले की है, जब पहलू खान एक अप्रैल 2017 को जयपुर से दो गाय खरीद कर जा रहे थे। तभी बहरोड़ में भीड़ ने गो तस्करी के शक में उन्हें रोक लिया। खान और उनके दो बेटों की भीड़ ने कथित तौर पर पिटाई की। इसके बाद, तीन अप्रैल को इलाज के दौरान अस्पताल में पहलू खान की मौत हो गई।

Comments

Leave a Reply


Advertisement