India

दलित बेटे को भीड़ ने पीट-पीट कर मार दिया था, इंसाफ ना मिलने पर पिता ने भी निगला जहर


Updated On: 2019-08-17 14:28:35 दलित बेटे को भीड़ ने पीट-पीट कर मार दिया था, इंसाफ ना मिलने पर पिता ने भी निगला जहर

राजस्थान के भिवाड़ी के झिवाना गांव के रहने वाले हरीश जाटव की 17 जुलाई को भीड़ ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी। इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तार ना किए जाने से आहत हरीश जाटव के नेत्रहीन पिता रत्तीराम जाटव ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इस मामले में पुलिस पर गंभीर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

खबरों के मुताबिक, परिजनों का आरोप है कि मामले में न्याय नहीं मिलने के कारण रत्तीराम ने ये कदम उठाया। उनका यह भी कहना है कि हरीश जाटव की हत्या के बाद भी पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया और आरोपी लगातार हरीश जाटव के परिवार को धमकी देते रहे। दलित परिवार से संबंधित हरीश जाटव के गरीब पिता लगातार न्याय की गुहार लगाते रहे, लेकिन पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की. उधर आरोपी भी लगातार बेखौफ होकर घूम रहे थे। इससे परेशान होकर पिता ने आत्महत्या कर ली।

मृतक रत्तीराम के बेटे दिनेश जाटव ने बताया कि उसके भाई को फालसा गांव में एक महिला से बाइक की टक्कर के बाद बुरी तरह से पीटा गया था, जिससे उसकी मौत हो गई। अलवर पुलिस इस मामले को एक्सीडेंट का रूप देने में जुटी हुई थी। इसका विरोध होने पर आईजी के निर्देश पर 302 में हत्या का मामला दर्ज हुआ था। हालांकि इसके बाद भी पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की।

Comments

Leave a Reply


Advertisement