Article

उत्तर प्रदेश की चुनावी दौड़ में मायावती सबसे आगे

वर्तमान परिस्थितियां बनी रहीं तो 2017 में बहन जी को उत्तर प्रदेश की सत्ता का पुरस्कार मिल सकता है...

Read More

मौत के बाद भी छुआछात...यहां सवर्णों के गलियारों से गुजर नहीं सकते दलितों के मुर्दे

कुरीतियां रिवाजों में बदल गई है... इसलिए जो सता रहे हैं और जो सताए जा रहे हैं उन्हें कोई शिकायत नहीं...

Read More

दलित वीरांगना : गुमनामी में कैद साहस की प्रतीक झलकारी बाई

22 नवंबर 1830 को दलित परिवार में पैदा हुई झलकारी बाई झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की सिपाहसालार थीं...

Read More

स्कूलों में जातिवाद : जाति के मुताबिक होता है बच्चों की यूनिफार्म का रंग!

तमिलनाडु के तिरुनेलवल्ली जिले के सरकारी स्कूलों में बच्चों की यूनिफॉर्म एक जैसी नहीं है, बल्कि जाति के मुताबिक है...

Read More

पंचायत चुनाव में जीत के बाद यूपी की सत्ता के लिए बिसात बिछाने लगी बसपा

बसपा प्रमुख मायावती कोर वोटर के साथ ही जिताऊ गठजोड़ तलाशने में जुट गई हैं...

Read More

कार लोन की ब्याज दर 10 फीसदी, फसल की 13.15

अगर कोई किसान सरकारी बैंक से कर्ज चाहता है तो उसे इतने पापड़ बेलने पड़ेंगे कि वह दोबारा कर्ज लेने की सोच भी नहीं सकता...

Read More

कर्ज ने छीन लिए मर्द, इस गांव में अब हैं सिर्फ औरतें और बच्चे

मकराजपेटा वह गांव है, जहां सूखा, बर्बाद फसल, कर्ज के बोझ तले दबी औरतों की पीड़ा आंखों से आंसू निकालने के लिए काफी है...

Read More
‹ First  < 10 11 12