Popular Videos

भिन्न-भिन्न सामाजिक एवं राजनीतिक पृष्ठभूमि से आए युवाओं को दलित हितैषी कैसे माना जा सकता है?

हाईकोर्ट ने डीसी को मौके का जायजा लेकर स्टेटस रिपोर्ट पेश करने को कहा

आदिवासी महिला के पास बच्चों को नहीं भेजते अभिभावक

अब फल-सब्जियों में पोषक तत्वों की वह मात्रा नहीं पाई जा रही है, जो आज से पचास वर्ष पहले हुआ करती थी।